कोरोना की चपेट में आए अर्धसैनिक बलों के जवान, आँकड़ा पांच हज़ार के करीब पहुंचा

by GoNews Desk 1 month ago Views 1121
18 CAPF personnel died due to COVID-19 in June, to
कोरोना वायरस के संक्रमण ने केन्द्रीय अर्धसैनिक बलों को बुरी तरह अपनी चपेट में ले रखा है। अबतक सेन्ट्रल आर्म्ड फोर्सेज़ के 4800 से ज़्यादा जवान कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 1905 मरीज़ अभी भी एक्टिव हैं जबकि 27 जवानों की मौत हो चुकी है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक़ सीआरपीएफ यानि सेन्ट्रल रिज़र्व्ड पुलिस फोर्स के कुल 1,510 जवान कोरोना पॉज़िटिव पाए गए जिनमें 755 संक्रमित जवानों का इलाज चल रहा है। अबतक सीआरपीएफ के नौ जवानों की मौत हुई है, इनमें अकेले जून महीने में सात जवानों की जान चली गई।

Also Read: आंध्रा और मध्य प्रदेश के बाद हरियाणा में भी 75 फ़ीसदी नौकरियां स्थानीय युवाओं को

वहीं सीआईएसएफ के आठ जवानों ने कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से अपनी जान गंवाई और इनमें चार जवानों की मौत अकेले जून महीने में हुई। अबतक 1,021 सीआईएसएफ के जवान कोरोना से संक्रमित हुए हैं और 38 फीसदी मरीज़ एक्टिव हैं।

बीएसएफ यानि बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स के 1300 जवान कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आए हैं। इनमें पांच जवानों की मौत हुई जबकि पिछले महीने में तीन जवानों ने अपनी जान गंवाई। फिलहाल 526 बीएसएफ के कोरोना संक्रमित जवान एक्टिव श्रेणी में हैं।

वीडियो देखिए

वहीं इंडो-तिब्बतन बॉर्डर पुलिस के 425 जवान कोरोना की चपेट में आए जिनमें 151 मरीज़ एक्टिव हैं। जबकि अबतक तीन जवानों की कोरोना संक्रमण की वजह से मौत हुई है।

एसएसबी यानि सीमा सुरक्षा बल के जवान भी कोरोना संक्रमण से अछूते नहीं हैं। अबतक एसएसबी के 153 जवान कोरोना की चपेट में आए हैं और दो जवानों की संक्रमण की वजह से मौत हुई है। फिलहाल एसएसबी के 26 कोरोना संक्रमित जवानों का इलाज चल रहा है।

यही नहीं, एनडीआरएफ के 249 जवान भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं, कम से कम 100 मरीज़ एक्टिव हैं। एनएसजी के 75 जवान कोरोना की चपेट में आए हैं जो सभी पैरामिलिट्री फोर्सेज़ में सबसे कम है। इनमें 90 फीसदी संक्रमित जवान ठीक हो चुके हैं।

Latest Videos

Facebook Feed