तिरंगा पकड़े युवक की हत्या के आरोप में हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ता गिरफ्तार

by Rahul Gautam 4 months ago Views 3211
Activist of Hinduist organization arrested in Patn
नागरिकता क़ानून के ख़िलाफ़ 21 दिसंबर को बिहार बंद के दौरान लापता हुए एक शख़्स की हत्या के आरोप में छह मुलज़िमों को गिरफ़्तार किया गया है. हत्याकांड के मास्टरमाइंड भगवा संगठनों से जुड़े लोग हैं जिनके ख़िलाफ़ पुलिस सांप्रदायिक हिंसा भड़काने के मामले की भी जांच कर रही है.

धर्म के आधार पर भेदभाव करने वाले नागरिकता क़ानून के ख़िलाफ़ बिहार में 21 दिसंबर को हुए प्रदर्शन के दौरान एक नौजवान आमिर हंज़ला लापता हो गया था. राज्य पुलिस ने 31 दिसंबर को आमिर की लाश ढूंढ निकाली थी और अब उसकी हत्या के मुलज़िमों को भी गिरफ़्तार कर लिया गया है.

Also Read: विश्व पुस्तक मेला ने मलाला से किया किनारा

गिरफ़्तार मुलज़िमों की शिनाख़्त नागेश सम्राट और विकास कुमार के रूप में हुई है जो हिंदू पुत्र और हिंदू समाज जैसे भगवान संगठन चलाते हैं. इनके अलावा दीपक महतो, छोटू महतो, सनोज महतो और रईस पासवान भी आमिर हंज़ला की हत्या के आरोप में गिरफ़्तार किए गए हैं. सभी क्रिमिनल बैकग्राउंड वाले हैं. इस हत्याकांड की जांच फुलवाली शरीफ़ पुलिस कर रही है.

आमिर हंज़ला के घरवालों के मुताबिक 21 दिसं बर को वह घर से काम लिए निकला था लेकिन नागरिकता क़ानून के ख़िलाफ़ आरजेडी ने बिहार बंद बुलाया था तो वह प्रदर्शन में शामिल हो गया. प्रदर्शन के वीडियो में आमिर हाथों में तिरंगा लहराता हुआ दिख रहा है. जांच में आमिर की आख़िरी लोकेशन फुलवारी शरीफ़ के ब्लॉक ऑफिस के पास मिली थी और वहीं से उसकी लाश बरामद हुई.

वीडियो देखिये

फुलवारी शरीफ़ पुलिस गिरफ़्तार आरोपियों के उन वीडियो की भी जांच कर रही है जिसमें वे सांप्रदायिक हिंसा के लिए लोगों को भड़का रहे हैं. बिहार बंद राष्ट्रीय जनता दल की अपील पर बुलाया गया था लेकिन हत्याकांड उजागर होने के बावजूद पार्टी या तेजस्वी यादव ने इसपर कोई बयान जारी नहीं किया है.

Latest Videos

Facebook Feed