कोरोना वायरस: सभी ऐतिहासिक इमारतें 31 मार्च तक बंद, संस्कृति मंत्रालय का फैसला

by Shahnawaz Malik 2 months ago Views 732
Corona virus: all 3,691 historic buildings closed
कोरोनावायरस के लगातार बढ़ते मामलों के बीच केंद्र सरकार पाबंदियां बढ़ाती जा रही है. अब संस्कृति मंत्रालय ने एएसआई के तहत आने वाले सभी ऐतिहासिक इमारतों और संग्रहालयों को 31 मार्च तक बंद करने का ऐलान किया है.


कोरोनावायरस के बढ़ते ख़तरे को देखते हुए संस्कृति मंत्रालय ने आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया की देखरेख वाली सभी ऐतिहासिक इमारतों और म्यूज़ियम्स को 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया है. केंद्रीय संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल ने बताया कि मंत्री समूह की बैठक के बाद यह फैसला हुआ है कि एएसआई के तहत आने वाली 3,691 इमारतें 31 मार्च तक बंद रहेंगी.  

Also Read: सीजेआई रंजन गोगोई राज्यसभा जाने को तैयार, शपथग्रहण के बाद मीडिया से करेंगे बात

उत्तर प्रदेश में सबसे ज़्यादा सैलानी ताजमहल देखने के लिए आगरा पहुंचते हैं लेकिन पाबंदियों के चलते यहां सैलानियों की तादाद बेहद कम हो गई थी. रविवार को यहां महज़ 1,274 सैलानी पहुंचे जबकि आमतौर पर यहां हर दिन 20-25 हज़ार सैलानी पहुंचते हैं. फिलहाल ताजमहल को बंद कर दिया गया है. आगरा जाने वाले सैलानी बुलंद दरवाज़ा देखने फतेहपुर सिकरी भी पहुंचते थे लेकिन अब यहां भी पर्यटन से जुड़ी सरगर्मी ठप्प है. ताजमहल के अलावा दिल्ली में हुमायूं का मक़बरा, कुतुब मीनार, लोटस टेंपल, कोलकाता में विक्टोरिया मेमोरियल और हैदराबाद में चारमीनार जैसी ऐतिहासिक इमारतों को देखने के लिए विदेशी सैलानियों का तांता लगा रहता था लेकिन अब हर जगह सन्नाटा है. 

ऐतिहासिक इमारतों के अलावा विदेशी और घरेलू सैलानी बड़ी तादाद में शिमला, मनाली जैसे हिल स्टेशनों पर पहुंचते थे लेकिन अब यहां भी सन्नाटा है. होटलों में इक्का दुक्का पर्यटक नज़र आ रहे हैं जबकि रेस्तरां पर ताले लटक रहे हैं. 

वीडियो देखिए

यही हाल मंदिरों और बाक़ी इबादतगाहों का भी है. मुंबई के मशहूर सिद्धि विनायक मंदिर को अगले आदेश तक के लिए बंद कर दिया गया है. उज्जैन के महाकाल मंदिर में होने वाली भस्म आरती में भीड़ उमड़ती है जिसे रोक दिया गया है. यही हाल वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर का है जहां कोरोना वायरस के चलते श्रद्धालुओं की तादाद घटती जा रही है. 

Latest Videos

Facebook Feed