ढाई घंटे में चार लाख टिकटों की बिक्री, रेल मंत्री बोले- शुभ संकेत

by GoNews Desk 1 week ago Views 554
four lakh tickets booked in two and a half hours,
रेल टिकटों की ऑनलाइन बुकिंग शुरू होते ही ढाई घंटे में चार लाख से ज़्यादा लोगों ने टिकट ख़रीद लिए. टिकट ख़रीदने वालों में घर जाने के साथ-साथ ऐसे लोग भी हैं जो काम के लिए वापस शहर लौटना चाहते हैं. रेल मंत्री पियूष गोयल ने इसे एक अच्छा संकेत बताया है. उन्होंने कहा कि शुक्रवार से ट्रेन की टिकटें देशभर में बने 1.7 लाख कॉमन सर्विस सेंटर से भी ख़रीदी जा सकेंगी. दो तीन दिन में खिड़की से भी टिकटों की बुकिंग शुरू की जाएगी. 

फिलहाल देशभर में 200 ट्रेनें एक जून से चलाई जाएंगी लेकिन आने वाले दिनों में इनकी संख्या बढ़ाई जाएगी. रेल मंत्रालय के मुताबिक सभी एसी और नॉन एसी ट्रेनें आरक्षित होंगी. जनरल क्लास के लिए भी टिकटें आरक्षित की जाएंगी. इन ट्रेनों के लिए वेटिंग और आरएसी टिकट भी जारी किए जाएंगे लेकिन टिकट कंफर्म हुए बिना सफ़र नहीं किया जा सकेगा. यहां तक कि जनरल बोगी में सेकेंड सीटिंग का किराया वसूला जाएगा ताकि सभी को सीट मिल सके. 

Also Read: कोरोना से महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 1390 मौत, देखिये किस राज्य में हैं कितने मामले ?

रेल मंत्रालय की गाइडलाइंस-

  • मौजूदा नियमों के अनुसार ही वेटिंग और आरएसी के चार्ट तैयार होंगे लेकिन वेटिंग टिकट के साथ यात्रा नहीं कर सकते.
  • यात्रा के दौरान किसी भी यात्री को टिकट जारी नहीं किया जाएगा.
  • इन ट्रेनों में यात्रा के लिए टिकट पहले बुक करना होगा. तत्काल और प्रीमियम तत्काल की सुविधा फिलहाल बंद कर दी गई है.
  • ट्रेन के समय से चार घंटे पहले पहला चार्ट जारी किया जाएगा और दूसरा चार्ट दो घंटे पहले जारी होंगे. हालांकि इस बीच टिकट की ऑनलाइन करंट बुकिंग की जा सकती है.
  • सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी और बिना लक्षण वाले यात्रियों को ट्रेन में एंट्री मिलेगी. ट्रेन के समय से डेढ़ घंटे पहले स्टेशन पहुंचना अनिवार्य है। सोशल डिस्टेंसिंग अनिवार्य है। फेस कवर या मास्क लगाना अनिवार्य है.
  • सभी यात्रियों के मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप होना लाज़्मी है और इसका इस्तेमाल अनिवार्य किया गया है. साथ ही कम सामानों के साथ यात्रा करने की अनुमति है.
  • गृह मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुसार ट्रेन यात्रियों को स्टेशन पहुंचने और ले जाने के लिए गाड़ी को कंफर्म्ड ई-टिकट के आधार पर अनुमति मिलेगी.
  • यात्रियों को अपना खाना और पानी लेकर चलना होगा, ट्रेन में पानी की किल्लत हो सकती है. कुछ ट्रेनों में जिसमें पेट्री कार होगा उसमें खाना और पानी की व्यवस्था होगी. हालांकि रेलवे स्टेशनों पर खाने-पीने के स्टॉल, बुक स्टॉल आदि खुले रहेंगे. इसके अलावा सफर में कंबल और चादर की व्यवस्था खुद करके जाएं.

Latest Videos

Facebook Feed