GoPlus - एक नज़र आज की बड़ी ख़बरों पर

by GoNews Desk 1 month ago Views 1844
Top News Of The Hour
GoPlus: एक नज़र आज की बड़ी ख़बरों पर


Also Read: योगी सरकार से परेशान शख़्स चीखा, ‘भारत में अत्याचार बहुत है’

सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त दो वार्ताकार , संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन,  दूसरे दिन भी शाहीन बाग़ पहुंचे , जहां नागरिकता क़ानून के ख़िलाफ़ , 2 महीने से महिलाओं का धरना प्रदर्शन चल रहा है. इस दौरान वरिष्ठ वकील और वार्ताकार साधना रामचंद्रन ने माना , कि प्रदर्शनकारी महिलाएं  

अपनी पहचान और वजूद को लेकर किस क़दर परेशान हैं. उन्होंने कहा कि ऐसी कोई समस्या नहीं , जिसका हल नहीं निकल सकता. शाहीन बाग बरकरार रखते हुए हल निकले , तो इससे अच्छी बात नहीं होगी. दूसरे वार्ताकार संजय हेगड़े ने प्रदर्शनकारियों  से कहा , कि उनकी बातें उन्होंने  सूनी हैं , और  दूसरों लोगों को क्या परेशानी हो रही है, यह भी सुनकर आए हैं. अगर सच्चे दिल से इस मसले को हल करें , तो लोग शाहीन बाग के संदेश और मुद्दे को , देश के लिए एक मिसाल मान लेंगे. 

साधना रामचंद्रन और संजय हेगड़े ने सुप्रीम कोर्ट के हवाले से समझाने की कोशिश की , कि धरना प्रदर्शन का हक सभी को  है , लेकिन यह किसी दूसरी जगह पर हो. संजय हेगड़े ने प्रदर्शनरियों को आश्वासन दिया की जब तक वे हैं , और जबतक सुप्रीम कोर्ट है , तब तक उनकी  सुनवाई कोई नहीं रोकने वाला है.  हालांकि इसके बावजूद प्रदर्शनकारी , पीछे हटने को तैयार नहीं हुए. वार्ताकार अब इस कोशिश में हैं की शाहीन बाघ का विरोध जारी रहे लेकिन दूसरे लोगों को दिखातें न हों, जो सड़क बंद है उसे खोल दिया जाए. इसके लिए पुलिस से बातचीत जारी है और इलाके का मुयायना किया जा रहा है 


दिल्ली के उपहार सिनेमा अग्निकांड में , अंसल बंधुओं को बड़ी राहत मिली है।   पीड़ितों की याचिका , सुप्रीम कोर्ट ने  ख़ारिज  कर दी है जिसके बाद  याचिकाकर्ता ने कहा की इंसाफ़ सिर्फ ताक़तवरों के लिए है. नीलम कृष्णामूर्ति , जिनके दोनों बच्चे इस अग्निकांड में मारे गए , उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के फैसले को निराशाजनक बताया.


बीजेपी शासित राज्य उत्तर प्रदेश में दलित समुदाय पर हमले का मामला अभी थमा भी नहीं था , कि अब कांग्रेस शासित राजस्थान में , दो दलितों की बेरहमी से पिटाई का वीडियो वायरल हो गया. इस वारदात के सभी सात आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं , लेकिन ऐसी वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. 


मंगलवार को संजय कोठारी को मुख्य सतर्कता आयुक्त , और बिमल जुल्का को केंद्रीय सूचना आयुक्त नियुक्त किया गया। लेकिन इनकी नियुक्ति के बाद लगातार सवाल उठाये जा रहे है , पहले लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने  विरोध जताया था। वहीँ अब आरटीआई कार्यकर्ता भी जिस प्रकार से नियुक्तियां की गई इसको लेकर सरकार पर सवाल खड़े कर रहें है। इस पुरे मामले पर CHRI के मेंबर , वेंकटेश नायक और आरटीआई कार्यकर्ता अंजलि भरद्वाज से बात की हमारे सहयोगी सिद्धार्थ पांडेय ने 


जम्मू-कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा , पिछले साल पांच अगस्त को ख़त्म किया गया था. तब केंद्र सरकार के इशारे पर , कश्मीर घाटी में तरह-तरह की पाबंदियां लगाई गई थीं. बड़े पैमाने पर राजनीतिक दलों और नागरिक संगठनों के कार्यकर्ताओं को नज़रबंद भी किया गया था. ऐसी तमाम कार्रवाई को तक़रीबन 200 दिन से ज़्यादा बीत चुके हैं लेकिन घाटी में हालात सामान्य नहीं हो सके हैं. इसके ख़िलाफ़ कई संगठनों ने एकजुट होकर जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन किया है और केंद्र सरकार से सभी राजनीतिक बंदियों को फौरन रिहा करने की मांग की है. 


कांग्रेस के अध्यक्ष पद को लेकर पार्टी के भीतर फिर घमासान मच गया है।  

कांग्रेस के अंदर ये बहस फिर छिड़ गई है कि क्या कोई ऐसा शख़्स पार्टी का नेतृत्व कर सकता है जो गांधी परिवार से ताल्लुक़ न रखता हो? कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित  पहले यह कह चुके हैं की , कांग्रेस में कई ऐसे बड़े नेता हैं , जिन्हें मौका दिया जाए , तो वो कांग्रेस को बेहतर नेतृत्व दे सकते हैं। 

इसपर हमारे सहयोगी अजय झा ने कांग्रेस नेता राशिद अलवी से बात की


उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में , सरकारी योजना का फायदा , सभी ज़रूरतमंदों को मिल रहा है या नहीं, यह दावे के साथ नहीं कहा जा सकता. पश्चिमी यूपी के अमरोहा में ऐसा ही एक मामला सामने आया , जहां ग़रीबी रेखा के नीचे ज़िंदगी गुज़ार रहा एक शख़्स , अपनी बूढ़ी मां की पेंशन के लिए,  चार साल से भटक रहा है. इस शख़्स का आरोप है , कि वृद्धा पेंशन की मामूली रक़म देने के लिए भी अफ़सर , उससे रिश्वत मांग रहे हैं… 


कांग्रेस ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है।  कांग्रेस ने आरोप लगाया कि मोदी मंत्रिमंडल ने बुधवार शाम , देश के किसान पर एक और हमला बोला , जब गुपचुप तरीके से , प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना , और  मौसम आधारित फसल बीमा योजना पर,  केंद्र सरकार द्वारा दी जाने वाली प्रीमियम राशि में , 100 प्रतिशत कटौती कर , देश के किसान को अपने रहमोकरम पर छोड़ दिया।  कांग्रेस ने और क्या क्या आरोप लगाए इस बारे में विस्तार से बता रहें है हमारे सहयोगी अजय झा


कर्नाटक में लिंगायत समुदाय ने परंपराओं को किनारे रखते हुए , एक मुसलमान युवक को,  अपने एक मठ का मुख्य पुजारी बनाने का ऐलान किया है. 33 साल के दीवान शरीफ रहमानसाब मुल्ला , 26 फ़रवरी को शांतिधाम मठ के पुजारी का पद ग्रहण करेंगे । पुजारी बनने पर , शरीफ रहमानसाब मुल्ला ने क्या कहा, देखिए इस रिपोर्ट में…


भारत दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बेशक़ बन चुका है , लेकिन अपने नागरिकों की जान की सुरक्षा के मोर्चे पर ,  फिसड्डी देशों में आता है. संसद में पेश नए आंकड़े बताते हैं कि साल 2019 में देशभर में सांप के काटने के 2 लाख 20 हज़ार मामले सामने आए , और मेडिकल की सुविधा नहीं होने के चलते मौतें भी दर्ज हुईं. 


संसद में पेश नए आंकड़े बताते हैं कि देश में अवैध तरीक़े से रहने वालों में सिर्फ बांग्लादेशी नहीं हैं. कई अन्य देशों के नागरिक , अवैध तरीक़े से भारत में रह रहे हैं और पकड़े जाने पर , सरकार ऐसे लोगों को डीपोर्ट कर रही है. चौंकाने वाला तथ्य यह है , कि डीपोर्ट होने के  सबसे ज़्यादा मामले , बांग्लादेश के न होकर , नाइजीरिया के हैं. सवाल यह है कि इसके बावजूद सरकार सिर्फ बांग्लादेशी घुसपैठ के मुद्दे को हवा क्यों देती है. 


भारत-पाकिस्तान में हमला करने वाले टिड्डियों का झुंड , अब अफ्रीकी देशों की ओर बढ़ रहा है. हाल यह है , कि सोमालिया और केन्या जैसे देशों में , टिड्डियों से लड़के के लिए फौज की टुकड़ियां बनाकर , ट्रेनिंग दी जा रही है. टिड्डियों का यह हमला कितना भयावह है, देखिये इस रिपोर्ट में 


न्यूजीलैंड और भारत के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला टेस्ट मैच कल  से Wellington के  Basin Reserve में खेला जाएगा। Basin Reserve में भारत के खिलाफ न्यूजीलैंड का रिकॉर्ड काफी ज्यादा अच्छा है और न्यूजीलैंड ने यहां 7 मैचों मे से  4 और भारत ने सिर्फ एक टेस्ट मैच जीता है।


अमेरिकी  राष्ट्रपति  24 फरवरी आगरा जाएंगे,  जहां  वो अपनी पत्नी के साथ ताज का दीदार करेंगे।जिसकों लेकर आगरा में सुरक्षा के पुख्ता इतंजाम करने के साथ ही आस पास की दुकानों की भी कायपलट का काम जोरों पर हैं।