कब तक चलेगा दिल्ली, मुंबई, लखनऊ, बंगलुरू जैसे शहरों में धरना?

by Shahnawaz Malik 3 months ago Views 954
How long will the dharna go on in cities like Delh
क़ानून मंत्री रविशंकर प्रसाद के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने भी साफ किया है कि वो नागरिकता क़ानून विरोधी प्रदर्शनकारियों से बातचीत के लिए तैयार हैं. मगर मुंबई से लेकर दिल्ली तक प्रदर्शनकारी अपना धरना ख़त्म करने को तैयार नहीं हैं. दिल्ली के शाहीन बाग़ में भी औरतों का धरना जारी है. 

क़ानून मंत्री रविशंकर प्रसाद के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने भी नागरिकता क़ानून विरोधी प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने का इशारा किया है. मगर उनका यह इशारा प्रदर्शनकारियों में भरोसा नहीं जगा पाया है. दिल्ली, मुंबई, बंगलुरू, लखनऊ समेत देश के अलग-अलग हिस्सों में औरतों ने नागरिकता क़ानून, एनआरसी और एनपीआर के ख़िलाफ़ अपना प्रदर्शन जारी रखा है. 14 फरवरी को वैलेंटाइंस डे के मौक़े पर शाहीन बाग़ के प्रदर्शनकारियों ने पीएम मोदी से धरना स्थल पर आने की अपील की. इस ऐतिहासिक धरने का चेहरा बन चुकीं दादियों ने कहा कि सरकार इस क़ानून को रद्द कर दे तो वो अपना धरना ख़त्म कर देंगे.

Also Read: दिल्ली में कांग्रेस का शून्यकाल

शाहीन बाग़ की तर्ज़ पर मुंबई के नागपाड़ा में 26 जनवरी से औरतों का धरना चल रहा है. महिला प्रदर्शनकारियों ने मुंबई पुलिस पर सख़्ती बरतने का आरोप लगाते हुए राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख से मुलाक़ात की है. इन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस धरना स्थल से गुज़रने वालों से भी पूछताछ कर रही है.

वीडियो देखिये

हालांकि महाराष्ट्र के सीएम एनआरसी को लेकर अपनी राय साफ कर चुके हैं लेकिन प्रदर्शनकारी चाहते हैं कि केरल, पश्चिम बंगाल और कांग्रेस शासित राज्यों की तरह महाराष्ट्र विधानसभा में भी इसके ख़िलाफ़ प्रस्ताव पास किया जाना चाहिए. 

Latest Videos

Facebook Feed