जेके लोन अस्पताल में 2 और नवजात शिशुओं की मौत से हड़कंप, अब तक 112 की मौत हुई

by Deepak Pokharia 1 month ago Views 565
JK Lone hospital stunned by death of 2 more newbor
ads
राजस्थान के कोटा में नवजात शिशुओं की मौत का सिलसिला जारी है। सोमवार को दो नवजात शिशुओं की मौत के बाद दिसंबर महीने से अब तक 112 नवजात शिशुओं की मौत हो चुकी है। इसके अलावा बीकानेर के पीबीएम शिशु अस्पताल में पिछले साल दिसंबर महीने 162 बच्चों की मौत हो चुकी है।

महीनेभर से नवजात शिशुओं की मौत को लेकर सुर्खियों में बना राजस्थान के कोटा के जेके लोन अस्पताल में नवजात शिशुओं की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को एक बार फिर जेके लोन अस्पताल में दो नवजात शिशुओं की मौत के बाद अब ये आंकड़ा बढ़कर 112 हो गया है। जेके लोन अस्पताल में अस्पताल में पिछले 38 दिनों में ये 112 मौतें हुई हैं।

Also Read: JNU हमले के 36 घंटे बाद भी कोई गिरफ़्तारी नहीं, हिंदू रक्षा दल ने हमले की जिम्मेदारी ली

जेके लोन अस्पताल में लगातार हो रही नवजात शिशुओं की मौत के बाद राज्य की गहलोत सरकार विपक्ष के निशाने पर है। नवजात शिशुओं की लगातार मौत होने से कोटा में बच्चों का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल जेके लोन अब सवालों के घेरे में है। साल 2019 में जेके लोन अस्पताल में 963 बच्चों की मौत हुई है।

वीडियो देखिये

राजस्थान के कोटा के अलावा बीकानेर के पीबीएम शिशु अस्पताल में पिछले साल दिसंबर महीने 162 बच्चों की मौत हो चुकी है। बात अगर पूरे साल की करें तो 2019 में पीबीएम शिशु अस्पताल  में  कुल 1681 बच्चों की मौत हो चुकी है। कोटा और बीकानेर के अलावा जोधपुर के सम्पूर्णानंद मेडिकल कॉलेज में 146 बच्चों की मौत हो चुकी है, जिनमें से 102 नवजात शिशु थे।