NRC पर राज्यसभा में अमित शाह का मुसलमानों का नाम ना लेने पर विपक्ष का विरोध

by Ankush Choubey 2 months ago Views 2476
Opposition opposes Amit Shah not naming Muslims in
ads
राज्यसभा में आज प्रश्नकाल के दौरान देश में एनआरआई लागु करने का मुदा उठा। जिसपर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बारी बारी से जवाब दिया। एनआरसी के मुद्दे पर जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा की धर्म की परवाह किए बिना पूरे भारत में एनआरसी हर व्यक्ति को कवर करेगा और देश के किसी भी धर्म के लोगों को डरने की जरूरत नहीं है।

कांग्रेस सांसद सैयद नासिर हुसैन ने अमित शाह से मुस्लिमों का नाम ना लेने का सवाल पूछा था. इसपर अमित शाह ने कहा, ‘लोगों को एनआरसी और सिटीजनशिप अमेंडमेंट बिल को लेकर कंफ्यूजन है। इसमें धर्म के आधार पर भेदभाव करने का कोई सवाल ही नहीं उठता। लेकिन इसके बाद एक सवाल के जवाब में अमित शाह ने कहा कि धर्म के आधार पर भेदभाव का शिकार होने वाले शरणार्थियों को नागरिकता मिलनी चाहिए।  लेकिन इस दौरान उन्होंने मुस्लिम समुदाय का नाम नहीं लिया।

Also Read: महाराष्ट्र में बीजेपी और एनसीपी गठबंधन की सरकार बनाने पर हो सकती है चर्चा: रामदास अठावले

वीडियो देखिये

हालाँकि मुस्लिम समुदाय का नाम ना लेने को लेकर अब अमित शाह के इस बयान पर सवाल भी उठ रहे है कि उन्होंने जानबूझ कर मुस्लिम समुदाय का नाम नहीं लिया है। वहीँ अमित शाह के पुरे देश में एनआरसी लागु करने वाले बयान पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पलटवार किया है। ममता बनर्जी ने कहा चाहे कुछ भी होजाये वो किसी भी हालत में बंगाल में एनआरसी लागू नहीं होने देंगी