PICTURES: ये है सरकार के स्मार्ट शहर का बर्बाद नज़ारा

by GoNews Desk 1 month ago Views 1101
मिशन स्मार्ट सिटी
ads
भारत सरकार ने जून 2015 में एक मिशन स्मार्ट सिटी लॉंच किया था। स्मार्ट सिटी मतलब कि स्मार्ट व्यवस्था। साफ-सुथरे शहर और लोगों के लिए बेहतर सुविधा मुहैया कराना इस मिशन का मकसद था लेकिन बोमौसम हो रही बरसात ने स्मार्ट सिटी मिशन के नारे को ही बेनाम कर दिया है।

लगता है ये मॉनसून भी सरकार की स्मार्ट सिटी योजना की पोल खोलकर ही दम लेगा। मिशन को शुरू किये हुए पांच साल गुज़र चुके हैं लेकिन अब तक किसी भी शहर को स्मार्ट होने का निशान दिखाई नहीं पड़ रहा है। बिहार में चार और उत्तर प्रदेश में 13 शहरों को स्मार्ट बनाने के लिये चुना गया था।

Also Read: 2 अक्टूबर से सिंगलयूज प्लाटिक पर रोक

एक तो बाढ़ और दूसरा बारिश दोनों ही ने सरकार की नाकामियों से पर्दा उठा दिया है। बिहार की राजधानी ‘पटना’ जिसे स्मार्ट बनाने के लिये चुना गया था लेकिन कितनी स्मार्ट हुई राजधानी पटना देखिये

ये है नालंदा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटसल जहां मरीज़, बारिश के पानी से घिरे चारपाई पर सो रहे हैं लेकिन शासन और प्रशासन दोनों की नाकामियां साफ दिख रही हैं

ये एक और तस्वीर पटना से ही है- अस्पताल की एंबुलेंस भी खड़ी है और चारों ओर पानी भरा है।

लगता है सरकार द्वारा किया गया वादा कि घर-घर पानी पहुंचाएंगे वो पूरा हो चुका है लेकिन ये पीने के लिये नहीं बिमारियों के लिये है।

ये है उत्तर प्रदेश के बेहद स्मार्ट शहर इलाहाबाद यानि प्रयागराज की तस्वीर, जहां बारिश और बाढ़ का पानी घर-घर घुस चुका है।

ये तस्वीर भी प्रयागराज की ही है जहां तेज़ बारिश के कारण सड़कों पर नाले का पानी एकत्रित हो चुका है।