साल 2019 में क्या-क्या हुआ? 'देखें पूरे साल का लेखा-जोखा'

by GoNews Desk 2 weeks ago Views 2191
What happened in the year 2019? 'Full year account
ads
देखें पूरे साल का लेखा-जोखा

Also Read: पहला टी-20: भारत बनाम श्रीलंका (प्रीव्यू)

1- राजनीति के लिहाज से साल 2019 भारत के लिए बेहद खास रहा। पिछले साल लोकसभा चुनाव के साथ ही छह राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए। लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को भारी जनादेश के साथ सत्ता में दुबारा लौटने का मौका मिला। साथ ही राज्यों के विधानसभा चुनाव में पार्टी को शिकस्त का सामना करना पड़ा। ख़ासकर बड़े राज्यों में बीजेपी सत्ता से बाहर हो गई।

2- देश की अर्थव्यस्था के लिहाज से साल 2019 किसी बुरे सपने जैसा रहा। सरकार की लाख कोशिशों के बाजवूद, भारत की जीडीपी लगातार गिरती रही और आर्थिक मोर्चे पर भारत, बांग्लादेश से भी पिछड़ गया। हालात इतने गंभीर हैं कि आरबीआई ने 5 बार, जीडीपी के विकास के आंकड़े घटाकर 8 से 4.5 कर दिया। कई सूचकांक बताते हैं कि देश-विदेश में मांग घटने का अर्थव्यवस्था पर उलटा असर पड़ा है.

3- बीजेपी के लिये साल 2019 लोकसभा चुनाव में भारी जनादेश के लिये ख़ास माना जा सकता है लेकिन राज्यों से जनाधार का सिमटना बीजेपी के लिये एक चिंता का विषय है। साल 2014 में पार्टी ने अपने बूते 282 सीटों पर कब्ज़ा जमाया वहीं 2019 में अमित शाह का अबकी बार 300 पार का नारा कामयाब रहा। लेकिन उपचुनावों और विधानसभा चुनावों में पार्टी को हार का सामना करना पड़ा। महाराष्ट्र की सत्ता से हाथ धोने के बाद पार्टी को झारखंड में भी हार मिली।

4- साल 2019 कांग्रेस के लिये जहां एक ओर निराशाजनक रहा वहीं दूसरी ओर राज्यों में सत्ता हासिल कर नई ऊंचाइयों तक पहुंचने का रास्ता भी। पार्टी को 2019 लोकसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा। दूसरी ओर बीजेपी सत्ता में वापसी के तुरंत बाद ही जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को ख़त्म करने के साथ-साथ नागरिकता क़ानून में संशोधन तो किया लेकिन पार्टी को इसका राजनीतिक लाभ नहीं मिला। बीजेपी को हाल में हुए झारखंड चुनाव में हार मिली। बीजेपी के हाथों से महाराष्ट्र की सत्ता भी छिन गई और कांग्रेस पार्टी, शिवसेना की अगुवाई में सरकार बनाने में सफल रही।

5- साल 2019 सुप्रीम कोर्ट द्वारा सुनाए गए कई बड़े फैसलों के लिए भी याद किया जाएगा। इस साल सुप्रीम कोर्ट ने लंबी सुनवाई के बाद अयोध्या में राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद ज़मीन विवाद मामले पर 9 नवंबर को अहम फैसला सुनाया जिसके बाद सदियों पुराना मामला सुलझ गया।

6- साल 2019, बॉलीवुड के साथ साथ रीजनल सिनेमा के लिए भी काफी अच्छा साल रहा. कई फिल्मों ने भरपूर कमाई की और कई फिल्मों का कंटेंट खूब सराहा गया।   

7- साल 2019 में राजनीति, खेल, कला और साहित्य जगत से कई मशहूर हस्तियाँ इस दुनिया से रुख़सत हो गईं। एक नज़र उन महान हस्तियों पर जो अब हमारे बीच नहीं हैं। गोन्यूज़ की ओर से उन्हें श्रद्धांजली।